Wednesday, June 19, 2024
HomenationalRajyasabha Election 2022: राज्यसभा की 57 सीटों पर चुनावी घमासान, जानें हर...

Rajyasabha Election 2022: राज्यसभा की 57 सीटों पर चुनावी घमासान, जानें हर राज्य में भाजपा-कांग्रेस का लेखा-जोखा।

आगामी 10 जून को राज्यसभा की 57 सीटों पर चुनाव आयोजित किया जाएगा। इसके लिए नामांकन की अंतिम तारीख 31 मई है। भाजपा के 25 सांसद रिटायर हो रहे हैं। इनमें से सिर्फ 22 सीटों पर भगवा पार्टी की वापसी संभव है।
 

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। राज्यसभा की 57 सीटों पर 10 जून को चुनाव होने वाले हैं। 31 मई को नामांकन की आखिरी तारीख है। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के 25 सांसद रिटायर हो रहे हैं। बता दें कि सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 11 सीटें हैं जिसमें से आठ पर भाजपा के ही आने की संभावना है।

यहां जानें कौन से राज्य में क्या है हाल:- 

उत्तर प्रदेश: राज्य में राज्यसभा की 11 सीटों पर दस जून को होने वाले मतदान के लिए भारतीय जनता पार्टी शनिवार को अपने प्रत्याशियों का नाम घोषित कर सकती है। 11 में से आठ सीटों पर भाजपा जीत दर्ज करने की स्थिति में है। वहीं तीन सीटों पर समाजवादी पार्टी गठबंधन के उम्मीदवार राज्यसभा पहुंचेंगे। भाजपा राज्यसभा के उम्मीदवार के तौर पर कुछ नए चेहरों के नामों पर भी मुहर लगा सकती है। इसके साथ ही पांच में से चार मौजूदा राज्यसभा सदस्यों को दोबारा राज्यसभा भेजा जा सकता है। भाजपा जिन आठ प्रत्याशियों को उतारने के योजना में है, उनमें से तो चार नाम पुराने पांच में से हैं। लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए चार नाम तो जातीय तथा क्षेत्रीय समीकरण के हिसाब से तय होने हैं। भाजपा से राज्यसभा सदस्य शिवप्रताप शुक्ला, संजय सेठ, सुरेन्द्र सिंह नागर, जफर इस्लाम तथा जयप्रकाश निषाद का कार्यकाल चार जुलाई तक है। माना जा रहा है कि जयप्रकाश निषाद की जगह बाबू राम निषाद को भेजा जा सकता है, बाकी चार को फिर से भेजा जा सकता है। उल्लेखनीय है कि राज्य में एक राज्यसभा सांसद के लिए 34 विधायकों के समर्थन की जरूरत होती है।

छत्तीसगढ़ व उत्तराखंड : यहां की सत्ता में कांग्रेस पार्टी है और यह यहां की दोनों राज्यसभा सीटों पर कब्जा कर सकती है। यहां 31 विधायकों के समर्थन की जरूरत है। जहां तक उत्तराखंड की बात है यहां एक सीट पर राज्यसभा चुनाव है, जो कि भाजपा के खाते में जाएगी। यहां 36 विधायकों का समर्थन जरूरी है।

पंजाब: पंजाब में राज्यसभा की दो सीटों पर चुनाव हैं जिसके लिए 40 विधायकों का और इन दोनों ही सीटों पर आम आदमी पार्टी का कब्जा होने की संभावना है। दोनों ही सीटें आम आदमी पार्टी के खाते में जाएगी। यहां 40 विधायकों का समर्थन जरूरी है। पंजाब के मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्यसभा सीट के लिए आप उम्मीदवारों के तौर पर पर्यावरणविद बलबीर सिंह सीचेवाल, सामाजिक कार्यकर्ता विक्रमजीत सिंह साहनी का नाम तय किया गया है। 

हरियाणा : हरियाणा की दो राज्यसभा सीटों पर चुनाव होना है । भाजपा और कांग्रेस एक-एक सीटें जीत सकती है। कांग्रेस के असंतोष को देखते हुए दोनों ही भाजपा के खाते में भी जा सकती है।

राजस्थान : राजस्थान में राज्यसभा की कुल चार सीटें हैं, जिनपर चुनाव 10 जून को है। यदि कांग्रेस राजस्थान में खाली हो रही सभी तीन सीटों को हासिल करने में सफल हो जाती है तो उच्च सदन में उसकी तीन से चार सीटें और बढ़ जाएंगी। संभावना जताई गई है कि यहां की दो सीटें सीधे तौर पर कांग्रेस के खाते में और एक भाजपा के पास जा रहीं हैं। बता दें कि यहां एक सीट के लिए 41 विधायकों के समर्थन की जरूरत है

मध्य प्रदेश : यहां तीन सीटों पर चुनाव है और एक सीट के लिए 76 विधायकों के समर्थन की जरूरत है। कयास लगाया गया है कि तीन में से दो सीटों पर भाजपा और एक पर कांग्रेस के जीतने की संभावना है और दो पर भाजपा के जीत की संभावना है।

महाराष्ट्र : यहां छह सीटों पर राज्यसभा चुनाव है। राज्यसभा की एक सीट के लिए 42 विधायकों के समर्थन की जरूरत है। महाराष्ट्र में तीन सीटें महाराष्ट्र विकास अघाड़ी के पास जा सकती हैं वहीं दो पर भाजपा का कब्जा होना बताया जा रहा है और एक सीट पर चुनाव के लिए कहा जा रहा है। 

कर्नाटक : भाजपा शासित कर्नाटक में राज्यसभा की चार सीटों पर चुनाव 10 जून को है। इसमें से दो भाजपा और एक कांग्रेस के खाते में जा रही है वहीं चौथे सीट पर चुनाव के नतीजों का इंतजार है ।

तमिलनाडु : यहां राज्यसभा की छह सीटों के लिए चुनाव है। यहां एक सीट के लिए 41 विधायकों के समर्थन की जरूरत है। राज्य में द्रमुक-कांग्रेस गठबंधन चार सीटें जीत सकती हैं। कांग्रेस को द्रमुक अपने खाते से एक सीट देगी और दो सीटें विपक्ष के खाते में जाती दिख रहीं हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments