Wednesday, June 19, 2024
Homeललितपुरस्टेडियम प्रबंधन और अग्निवीरों के बीच नोकझोंक, पुलिस की सूझबूझ से सुलझा...

स्टेडियम प्रबंधन और अग्निवीरों के बीच नोकझोंक, पुलिस की सूझबूझ से सुलझा मामला

ललितपुर । जब से केंद्र सरकार ने युवाओं के लिए अग्निपथ और अग्निवीर योजना लॉन्च की है तब से बेरोजगार युवाओं में रोजगार के प्रति आशा की तरह दिखाई देने लगी है और अग्निपथ तथा अग्निवीर के लिए युवाओं ने तैयारियां शुरू कर दी। हम यहां बात कर रहे हैं उत्तर प्रदेश के जनपद ललितपुर की जहां स्पोर्ट्स के नाम पर खिलाड़ियों और सेना में भर्ती के लिए अभ्यर्थियों को तैयारी करने का अवसर मिलता है। लेकिन अपना अभ्यास करने के लिए स्पोर्ट्स स्टेडियम में अभ्यर्थियों को ₹310 देकर अपना रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है। रविवार को ललितपुर के एकमात्र स्पोर्ट्स स्टेडियम में रजिस्ट्रेशन को लेकर अग्निवीर की तैयारी कर रहे युवाओं और स्टेडियम प्रबंधन के बीच नोकझोंक हो गई तभी वहां स्टेडियम प्रबंधन ने 112 पर डायल करके पुलिस को बुला लिया इस पर अग्निवीर के अभ्यर्थी भड़क उठे। स्टेडियम प्रबंधन ने अभ्यर्थियों पर आरोप लगाया कि सभी लोग स्टेडियम में एकजुट होकर तोड़फोड़ कर रहे थे। स्वयं पर झूठा आरोप लगता देख अग्निवीर के अभ्यर्थी और ज्यादा भड़क गए तथा अपनी शिकायत लेकर जिला अधिकारी कार्यालय पर पैदल मार्च करते हुए जाने लगे तभी रास्ते में किसी ने पुलिस को फोन कर दिया तो मौके पर पहुंचे शहर कोतवाल ने अग्निवीर अभ्यर्थियों समझाया तथा सदर कोतवाली ले ले जहां उन्होंने सभी को चाय पिलाई और उनका गुस्सा शांत करते हुए मामले को सुलझाया। वही अग्निवीर अभ्यर्थियों ने शहर कोतवाल को दिए प्रार्थना पत्र में स्टेडियम प्रबंधन और कोच पर गंभीर आरोप लगाए हैं तथा कोच की काबिलियत पर भी तमाम सवाल खड़े किए हैं। अग्निवीर अभ्यर्थियों ने कहा है कि अगर स्पोर्ट्स स्टेडियम में वह 310 रूप्ये देकर रजिस्ट्रेशन कराएंगे तो क्या स्टेडियम से उन्हे सारी सुविधाएं मिलेंगी। वहीं अग्निवीर अभ्यर्थियों ने स्टेडियम के कोच की फिटनेस पर भी सवाल खड़े किए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments