Sunday, June 16, 2024
Homeललितपुरललितपुर के बजाज पावर प्लांट में सिर्फ एक दिन का कोयला बचा।

ललितपुर के बजाज पावर प्लांट में सिर्फ एक दिन का कोयला बचा।

झांसी। ललितपुर के बजाज पावर प्लांट में सिर्फ एक दिन का ही कोयला बचा है। अगर जल्द ही कोयला नहीं मिला तो बिजली उत्पादन में कमी आ जाएगी। इससे बिजली संकट गहरा सकता है। वहीं, पारीछा थर्मल पावर प्लांट झांसी में भी डेढ़ दिन का ही स्टॉक बचा है।


नियमानुसार प्रत्येक प्लांट पर एक महीने का कोयला स्टॉक में होना चाहिए. हालांकि अफसरों का कहना है कि कोयले की कमी के बारे में शासन को अवगत करा दिया गया है। ललितपुर के बजाज पावर प्लांट के असिस्टेंट वाइस प्रेसीडेंट राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि प्लांट की तीनों 660 मेगावाट की इकाइयों को पूरी क्षमता के साथ चलाकर 1980 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जा रहा है। लेकिन बहुत जल्द ही बिजली के उत्पादन में कमी आ सकती है। प्लांट में सिर्फ एक दिन के लिए ही कोयला बचा है। अगर जल्द सप्लाई के अनुसार मांग पूरी नहीं हुई तो बिजली उत्पादन पर प्रभाव पड़ जाएगा। इससे बिजली संकट भी गहरा सकता है।


वहीं, पारीछा थर्मल पावर प्लांट के महाप्रबंधक एमके सचान ने बताया कि पारीछा पावर प्लांट में भी कुल 17 हजार मीट्रिक टन कोयला ही स्टॉक में है। चारों इकाइयों से मांग के अनुसार दिन में 520 और रात में 920 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जा रहा है। यदि जल्द ही कोयला की सप्लाई नहीं हुई तो, बिजली उत्पादन में कमी आ जाएगी।
वॉयलर के ट्यूब में लीकेज होने से पारीछा की एक यूनिट बंद
झांसी। पारीछा थर्मल पावर हाउस की एक 250 मेगावाट की एक इकाई के वॉयलर की ट्यूब फटने के कारण मशीन बंद हो गई और बिजली का उत्पादन ठप हो गया। इससे शनिवार की रात 250 मेगावाट की बिजली का उत्पादन कम किया गया। अन्य तीनों यूनिटों से कुल 665 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments