Tuesday, June 25, 2024
HomeSportइंग्लैंड में 120 साल में पहली बार हुआ कुछ ऐसा।

इंग्लैंड में 120 साल में पहली बार हुआ कुछ ऐसा।

ऋषभ पंत ने ब्रिसबेन टेस्ट के पहले दिन 146 रनों की पारी खेली. उन्होंने इस पारी के साथ कई बड़े रिकॉर्ड्स अपने नाम किए हैं. 

Rishabh Pant vs England: ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने ब्रिसबेन टेस्ट के पहले दिन धमाकेदार बल्लेबाजी की. उन्होंने मुश्किलों में दिख रही टीम इंडिया (Team India) को एक बड़े स्कोर तक पहुंचाने का काम किया. पंत की इस पारी ने टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी एमएस धोनी के 17 साल पुराने रिकॉर्ड को भी तोड़ा है. वहीं एजबेस्टन के मैदान पर एक ऐसा कारनामा किया है जो 120 सालों में किसी ने नहीं किया था. 

पंत ने तोड़ा धोनी का 17 साल पुराना रिकॉर्ड

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने पहली पारी में 111 गेंदों का सामना करते हुए 19 चौकों और चार छक्कों  की मदद से 146 रन बनाए. उन्होंने अपना शतक 89 गेंदों पर ही पूरा कर लिया था. वे उनके करियर का पांचवां शतक था. इसी के साथ पंत अब सबसे तेज टेस्ट शतक जड़ने वाले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं. इससे पहले ये रिकॉर्ड एमएस धोनी के नाम था. धोनी ने 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ 93 गेंदों पर शतक लगाया था. 

एजबेस्टन के मैदान पर सबसे तेज शतक

एजबेस्टन के मैदान में साल 1902 से क्रिकेट मैच खेला जा रहा है. एजबेस्टन के 120 साल के क्रिकेट इतिहास में पहली बार किसी बल्लेबाज ने 100 से कम गेंदों का सामना करते हुए शतक जड़ा है. ऋषभ पंत (Rishabh Pant) इस मैदान पर सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं. वहीं इस मैदान पर शतक लगाने वाले वे तीसरे भारतीय बल्लेबाज बने हैं. उनसे पहले ये कारनामा सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली ने किया था. 

ऐसा करने वाले दुनिया के सबसे युवा विकेटकीपर

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने एक और बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया है. उन्होंने इस पारी में अपने 2000 टेस्ट रन भी पूरे किए. इसी के साथ वे टेस्ट में दो हजार रन पूरे करने वाले दुनिया के सबसे युवा विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए. ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की उम्र अभी 24 साल है. वे टेस्ट में अपने 2000 रन बनाने वाले चौथे भारतीय विकेटकीपर भी हैं. उनसे पहले धोनी, सैयद किरमानी और फारुख इंजीनियर ने टेस्ट में 2000 रन बनाए थे. 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments