Tuesday, June 25, 2024
HomeUncategorizedआधार' के नाम पर बालाजी लोकवाणी केंद में चल रहा लूट का...

आधार’ के नाम पर बालाजी लोकवाणी केंद में चल रहा लूट का खेल

‘आधार’ के नाम पर बालाजी लोकवाणी केंद में चल रहा लूट का खेल

आधार कार्ड संशोधन के नाम पर आवेदकों से लिया जा रहा अधिक शुल्क ध्यान नहीं दे रहे जिम्मेदार
ललितपुर। केंद्र सरकार की तरफ से स्पष्ट निर्देश हैं कि आधार कार्ड बनवाने की सेवा पूरी तरह निःशुल्क है और आम पब्लिक से इसके एवज में ज्यादा पैसा नहीं लिया जाएगा। मगर लोगों को इस बात की जानकारी ही नहीं है, आधार सेंटर्स जिसका फायदा उठाकर ‘सुविधा शुल्क’ वसूल करते हैं। ललितपुर में अगल-अलग हिस्सों में कई जगह प्राइवेट सेंटर्स ने भी आधार कार्ड बनवाने में लूट मचा रखी है।आधार कार्ड के नाम पर लिया जा रहा है अधिक शुल्क ₹400 से लेकर ₹600 तक जिसकी सूचना ललितपुर जिला अधिकारी को दी गई ललितपुर जिला अधिकारी ने तुरंत आधार कार्ड दलाली में संज्ञान लेते हुए सुपर मार्केट स्थित बालाजी लोकवाणी केंद्र दो दिवस जांच उपरांत तत्काल बंद करने के आदेश दिए मौके पर पहुंचकर वह देखा गया कि ग्रामीण क्षेत्र से आए गरीब एवं सहरिया लोगों एवं महिलाओं से 400 से ₹800 तक का शुल्क वसूला जा रहा है ऐसा नहीं कि सुपर मार्केट प्रमोद राय कंप्यूटर ऑपरेटर की दुकान खोल कर आधार कार्ड की दलाली में लाखों रुपया अवैध रूप से काफी समय से चल रही इस गोरखधंधे में कई आमजन परेशान देखे जाते हैं
नया आधार  कार्ड बनवाने के लिए आपको कोई पैसा नहीं देना है। यह सर्विस निःशुल्क है। आधार को अपडेट करने यानी नाम, पता, जन्म तिथि, ई-मेल आदि में सुधार के लिए आपको चार्ज देना पड़ेगा। जहां तक आधार सुधार पर लगने वाले चार्ज की बात करें तो जनसांख्यिकीय अपडेट के लिए 50 रुपये और बायोमेट्रिक अपडेट के लिए 100 रुपये (जनसांख्यिकीय अपडेट के साथ/बिना) शुल्क है। केंद्र सरकार के देश भर में हजारों आधार सेंटर हैं, जो आधार कार्ड बनाने और उन्हें अपडेट कराने का काम करते हैं।
जनसुविधा केंद्रों पर मची लूट: 500 रुपये में बन रहा आधार
केंद्र सरकार की तरफ से स्पष्ट निर्देश हैं कि आधार कार्ड बनवाने की सेवा पूरी तरह निःशुल्क है और आम पब्लिक से इसके एवज में एक भी पैसा नहीं लिया जाएगा। मगर लोगों को इस बात की जानकारी ही नहीं है, जिसका ये एजेंट ‘सुविधा शुल्क’ वसूलकर धड़ल्ले से फायदा उठा रहे हैं जिले में जनसुविधा केंद्रों पर उगाही का खुला खेल चल रहा है। केंद्रों पर आधार कार्ड से बनवाने की सौदेबाजी कर मोटी रकम वसूली जा रही है। शासन का निर्देश है कि जनसुविधा केंद्र किसी भी तरह का आवेदन फॉर्म भरने के लिए निर्धारित रुपए लिया जा सकता है लेकिन यह जन सुविधा केंद्र लूट का धंधा बनाए हुए हैं। सरकारी नियमों के मुताबिक, आधार कार्ड के नए रजिस्ट्रेशन और बच्चे के अनिवार्य बायोमीट्रीक अपडेशन के लिए किसी तरह की फीस नहीं देनी पड़ती है। यानी सरकार द्वारा अधिकृत सेंटर्स पर नया आधार कार्ड बनवाना पूरी तरह से निशुल्क है। वहीं आधार कार्ड में नाम, पता, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर, जेंडर या ईमेल अपडेट करवाने के लिए 50 से 100 रुपए चार्ज देना होगा। रिपोर्टर भगवत

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments